English-Video.net comment policy

The comment field is common to all languages

Let's write comments in your language and use "Google Translate" together

Please refer to informative community guidelines on TED.com

TED2018

Kate Stone: The press trampled on my privacy. Here's how I took back my story

केट स्टोन: प्रेस ने मेरी एकान्तता में दख़ल दिया। जानिए किस तरह से मैंने अपनी कहानी वापस ली।

Filmed:
951,380 views

एक बुरे एक्सीडेंट को अखबारों द्वारा दर्शाया गया, जिसके बाद केट स्टोन ने अपनी कहानी का नियंत्रण करने का तरीका ढूँढा, और इसी तरह दूसरों को एक पथ दिखाया ताकि उनकी एकान्तता को भी कोई आँच न आए। इस मज़ेदार और साहसिक कहानी से सीखिए उन्होंने कैसे अपनी एकान्तता को बचाया।

- Shepherd of electrons
At Novalia, Kate Stone and her team use ordinary printing presses to manufacture interactive electronics, which combine touch-sensitive ink technology and printed circuits into unique and cost-effective products. Full bio

Fiveपांच yearsवर्षों agoपूर्व, I stoodखड़ा था on the TEDटेड stageमंच,
and I spokeबोला about my work.
पाँच साल पहले मैंने TED के मंच पर,
अपने काम के बारे में बात की।
00:13
But one yearसाल laterबाद में,
मगर एक साल बाद,
00:17
I had a terribleभयानक accidentदुर्घटना as I left a pubपब
one darkअंधेरा night with friendsदोस्तों,
एक रात, स्कॉटलैंड में दोस्तों के साथ
पब से आते हुए मेरा एक
00:18
in Scotlandस्कॉटलैंड.
बुरा एक्सीडेंट हुआ।
00:22
As we followedपीछा किया the pathपथ throughके माध्यम से a forestजंगल,
I suddenlyअचानक से feltमहसूस किया a massiveबड़ा thudथूड़ू,
हम एक जंगल से गुज़र रहे थे और मुझे
कुछ ज़ोर से लगने जैसा महसूस हुआ,
00:23
then a secondदूसरा thudथूड़ू,
फिर एक और बार वैसा ही,
00:28
and I fellगिर गया to the groundभूमि.
और फिर, मैं ज़मीन पर गिर गई।
00:29
I had no ideaविचार what had hitमारो me.
मुझे पता नहीं चला कि मुझे किससे लगी थी।
00:31
I laterबाद में foundमिल गया out that when
the gateद्वार was openedखुल गया on a gardenबगीचा,
मुझे बाद में पता चला कि एक बगीचे
पर खुलता हुआ गेट था जहाँ से
00:34
a wildजंगली stagहरिण stampededभगदड़ मच गई alongसाथ में the pathपथ
and ranभाग गया straightसीधे into me.
एक जंगली हिरन आकर मुझसे ज़ोर से टकराया।
00:38
Its antlerAntler penetratedप्रवेश my tracheaश्वासनली
and my esophagusघुटकी
उसका सींग मेरे वायुनली और अन्ननलिका
में घुसा, और मेरे मेरुदण्ड तक जाकर
00:44
and stoppedरोका हुआ at my spinalरीढ़ की हड्डी में cordरस्सी
and fracturedखंडित my neckगरदन.
मेरे गर्दन की हड्डी तोड़ गया।
00:47
My bestश्रेष्ठ friendदोस्त foundमिल गया me
lyingझूठ बोलना on the floorमंज़िल,
मेरी सहेली ने देखा कि मैं ज़मीन पर घायल हूँ
00:51
gurglingGurgling for help
throughके माध्यम से a holeछेद in my neckगरदन.
और मेरी गर्दन में बड़ा सा
छेद बन चुका था।
00:53
And we lockedबंद eyesआंखें,
and althoughहालांकि I couldn'tनहीं कर सका speakबोले,
मैं बात नहीं कर पा रही थी मगर मेरी
आँखों में देख
00:56
she could understandसमझना what I was thinkingविचारधारा.
उसे मेरी मनोआवस्था समझ आ रही थी।
00:59
And she told me, "Just breatheसाँस लेना."
उसने मुझसे कहा, "बस साँस लो। "
01:01
And so, whilstWhilst focusingध्यान केंद्रित on my breathसांस,
I had a strongबलवान senseसमझ of calmnessशांति,
वह करते वक़्त मैं शांत होने लगी,
01:04
but I was certainकुछ that I was going to dieमरना.
पर मुझे पता था मैं मरने वाली हूँ।
01:08
Somehowकिसी, I was contentसामग्री with this,
फिर भी, मुझे इससे संतुष्टि थी,
01:11
because I've always triedकोशिश की
to do my bestश्रेष्ठ in life wheneverजब कभी I can.
क्योंकि मैंने ज़िंदगी में हालात देखकर
अपनी ओर से सब अच्छा ही किया है।
01:12
So I just continuedनिरंतर to enjoyका आनंद लें eachसे प्रत्येक breathसांस
as one more momentपल --
तो मैंने हर पल एक एक साँस लेने
पर ध्यान दिया--
01:15
one breathसांस in and one breathसांस out.
एक साँस अंदर, एक साँस बाहर।
01:19
An ambulanceरोगी वाहन cameआ गया,
I was still fullyपूरी तरह से consciousसचेत,
एक एम्बुलेंस आई,
मैं पूरे होश में थी।
01:21
and I analyzedविश्लेषण किया everything on the journeyयात्रा,
because I'm a scientistवैज्ञानिक:
और वैज्ञानिक होने के नाते मैंने सफ़र में
हर चीज़ का विश्लेषण किया;
01:24
the soundध्वनि of the tiresटायर on the roadसड़क,
the frequencyआवृत्ति of the streetसड़क lightsदीपक
सड़क पर चलती गाड़ियों की आवाज़ें,
गुज़रती हुई गलियों की लाइटें
01:27
and eventuallyअंत में, the cityशहर streetसड़क lightsदीपक.
और फिर, शहर की गलियों की लाइटें।
01:30
And I thought, "Maybe I will surviveबना रहना."
और मुझे लगा, "शायद मैं बज जाऊँगी।"
01:32
And then I passedबीतने के out.
फिर मैं बेहोश हो गई।
01:35
I was stabilizedस्थिर at a localस्थानीय hospitalअस्पताल
and then airliftedairlifted to Glasgowग्लासगो,
पहले एक अस्पताल में मेरी हिफ़ाज़त की गई,
और फिर ग्लासगो तक ले गए,
01:38
where they reconstructedखंगाला my throatगला
and put me in a comaकोमा.
जहाँ मेरे गले को ठीक करके
मुझे कोमा में डाला गया।
01:42
And while I was in the comaकोमा,
I had manyअनेक alternateवैकल्पिक realitiesवास्तविकताओं.
और जब मैं कोमा में थी,
मेरी अपनी भिन्न वास्तविकताएं थी।
01:46
It was like a crazyपागल mixमिश्रण
of "WestworldWestworld" and "Blackकाले Mirrorदर्पण."
ऐसा लगा जैसे मैं "वेस्टवर्ल्ड" और
"ब्लैक मिरर" का कोई मिश्रण देख रही हूँ।
01:49
But that's a wholeपूरा का पूरा other storyकहानी.
पर, वह एक अलग कहानी है।
01:53
My localस्थानीय TVटीवी stationस्टेशन reportedकी सूचना दी liveजीना
from outsideबाहर the hospitalअस्पताल
हमारे स्थानीय टीवी चैनेल ने मेरे,
यानी कि एक कोमा में गई
01:56
of a Cambridgeकैम्ब्रिज scientistवैज्ञानिक
who was in a comaकोमा,
एक कैंब्रिज वैज्ञानिक के बारे में
रिपोर्ट किया,
01:59
and they didn't know
if she would liveजीना or dieमरना or walkटहल लो or talk.
उन्हें नहीं पता था कि मैं ज़िन्दा रहूँगी,
या मरूँगी या क्या होगा।
02:03
And a weekसप्ताह laterबाद में,
I wokeउठा up from that comaकोमा.
एक हफ़्ते बाद,
मैं कोमा से बाहर आई।
02:07
And that was the first giftउपहार.
वह पहला तोहफ़ा था।
02:12
Then I had the giftउपहार to think,
the giftउपहार to moveचाल,
जिसके बाद मेरे पास सोचने का तोहफ़ा था,
चल फिर पाने का तोहफ़ा,
02:14
the giftउपहार to breatheसाँस लेना
साँस लेने का तोहफ़ा,
02:17
and the giftउपहार to eatखाना खा लो and to drinkपेय.
और खा-पी पाने का तोहफ़ा।
02:19
That tookलिया threeतीन and a halfआधा monthsमहीने.
उसे साड़े तीन महीने लगे।
02:21
But there was one thing
that I never got back, thoughहालांकि,
पर एक चीज़ ऐसी थी
जो मुझे वापस नहीं मिल पाई,
02:24
and that was my privacyगोपनीयता.
वह थी मेरी एकान्तता।
02:26
The tabloidअखबार pressदबाएँ
madeबनाया गया the storyकहानी about genderलिंग.
प्रेस ने इस कहानी को लिंग का विषय बना दिया।
02:28
Look -- I'm transgenderTransgender,
it's not that bigबड़े a dealसौदा.
मैं विपरीत लिंगी हूँ
और इसमें कोई बड़ी बात नहीं।
02:31
Like, my hairकेश colorरंग or my shoeजूता sizeआकार
is way more interestingदिलचस्प.
इससे ज़्यादा रोमांचक
तो मेरे बाल या जूते हैं।
02:34
When I last spokeबोला here --
जब मैं पिछली बार यहाँ थी --
02:39
(Applauseप्रशंसा)
(तालियाँ)
02:40
When I last spokeबोला here --
जब मैं पिछली बार--
02:42
(Applauseप्रशंसा)
(तालियाँ)
02:43
at TEDटेड, I didn't talk about it,
because it's boringउबाऊ.
यहाँ थी, मैंने उसकी बात नहीं की क्योंकि
वह मामूली विषय है।
02:44
And one Scottishस्कॉटिश newspaperअखबार
ranभाग गया with the headlineशीर्षक:
और एक स्कॉटिश अखबार की हैडलाइन थी:
02:47
"Sexलिंग Swapस्वैप Scientistवैज्ञानिक Goredगोर by Stagहरिण."
"ट्रांसजेंडर वैज्ञानिक को हिरन ने मारा"
02:50
And fiveपंज othersअन्य लोग did similarसमान things.
और पाँच अन्य अखबारों ने ऐसी चीज़ें की।
02:53
And for a minuteमिनट, I was angryगुस्सा.
एक क्षण के लिए, मैं गुस्सा थी।
02:55
But then I foundमिल गया my calmशांत placeजगह.
पर फिर मैं शांत हो गई।
02:57
And what ranभाग गया throughके माध्यम से my headसिर was,
"They'veवे crossedपार the wrongगलत womanमहिला,
मुझे लगने लगा कि इन अखबार वालों का पाला
ग़लत औरत से पड़ा है,
02:59
and they're not going to know
what's hitमारो them."
और उन्हें नहीं पता उनको किसने मारा है।
03:02
(Laughterहँसी)
(हँसी)
03:05
I'm a kindnessदया ninjaनिंजा.
मैं एक शांतिप्रिय निंजा हूँ।
03:06
I don't really know what a ninjaनिंजा does,
मैं नहीं जानती निंजा क्या करते हैं,
03:08
but to me, they slipचूक throughके माध्यम से the shadowsछैया छैया,
crawlक्रॉल throughके माध्यम से the sewersनाली,
पर मेरे हिसाब से वे गुप्त रहकर ही,
इधर से उधर घूम कर,
03:10
skipछोड़ें acrossभर में the rooftopsछतों,
छतों से चढ़ कर,
03:13
and before you know it,
they're behindपीछे you.
आपके पीछे लग जाते हैं।
03:14
They don't turnमोड़ up
with an armyसेना or complainशिकायत,
उनके पास कोई सेना नहीं होती,
03:16
and they're laser-focusedलेजर ध्यान केंद्रित on a planयोजना.
न ही कोई सोची हुई योजना।
03:18
So when I layरखना in my hospitalअस्पताल bedबिस्तर,
तो जब मैं अस्पताल में थी,
03:20
I thought of my planयोजना
to help reduceको कम the chancesसंभावना
मैंने सोचा कि कैसे
मैं इन लोगों को रोक पाऊँ,
03:22
of them doing this to somebodyकोई elseअन्य,
ताकि किसी और के साथ ऐसा न हो।
03:25
by usingका उपयोग करते हुए the systemप्रणाली as is, and payingका भुगतान
the priceमूल्य of sacrificingत्याग my privacyगोपनीयता.
मैं वैसा ही करती जैसा उन्होंने किया।
03:27
What they told one millionदस लाख people,
I will tell 10 millionदस लाख people.
जो उन्होंने दस लाख लोगों को बताया,
मैं एक करोड़ लोगों को बताती।
03:32
Because when you're angryगुस्सा,
people defendबचाव themselvesअपने.
क्योंकि आपके गुस्सा होते
लोग अपनी सफ़ाई देते हैं।
03:36
So I didn't attackआक्रमण them,
मैंने उनपर गुस्सा नहीं किया, तो उनके
03:39
and they were defenselessनिराश्रय.
पास सफ़ाई देने का मौका ही नहीं था।
03:40
I wroteलिखा था kindमेहरबान and calmशांत lettersपत्र
to these newspapersसमाचार पत्र.
मैंने इन अखबारों को शांतिपूर्वक पत्र लिखे।
03:42
And The Sunसूर्य newspaperअखबार,
the kindमेहरबान of "Foxफॉक्स Newsसमाचार" of the UKब्रिटेन,
द सन न्यूज़पेपर, ने मेरे शांतिपूर्वक
तरीके के लिए
03:46
thankedधन्यवाद me for my "reasonedतर्क approachपहुंच."
मेरा शुक्रिया अदा किया।
03:49
I askedपूछा for no apologyमाफी,
no retractionत्याग, no moneyपैसे,
मैंने न उनसे माफ़ी माँगी,
न ही कोई मुआवज़ा या पैसे,
03:52
just an acknowledgmentरसीद
that they brokeतोड़ दिया theirजो अपने ownअपना rulesनियम,
बस यज स्वीकार करना कि
उन्होंने अपने ही नियम तोड़े थे,
03:56
and what they did was just wrongगलत.
और जो उन्होंने किया था वह ग़लत था।
03:59
And on this journeyयात्रा,
I startedशुरू कर दिया है to learnसीखना who they are,
इसी सफ़र में
मैं समझने लगी कि वे कौन हैं,
04:03
and they beganशुरू हुआ to learnसीखना who I am.
और वे समझने लगे मैं कौन हूँ।
04:06
And we actuallyवास्तव में becameबन गया friendsदोस्तों.
और हम दोस्त बन गए।
04:08
I've even had a fewकुछ glassesचश्मा of wineवाइन
with Philippaफिलिप from The Sunसूर्य sinceजबसे then.
मैंने द सन की फिलिपा के साथ
फिर वक़्त भी बिताया।
04:10
And after threeतीन monthsमहीने, they all agreedमाना,
और तीन महीने बाद, वे मेरी बात मान गए,
04:15
and the statementsबयान
were publishedप्रकाशित on a Fridayशुक्रवार,
और उन्होंने अपने अखबार में
छापकर अपनी ग़लती
04:17
and that was the endसमाप्त of that.
स्वीकार की, और फिर कहानी ख़त्म।
04:19
Or so they thought.
या उन्हें लगा कहानी ख़त्म।
04:21
On the Saturdayशनिवार,
I wentचला गया on the eveningशाम newsसमाचार,
क्योंकि अगले दिन,
मैं टीवी न्यूज़ पर गई,
04:22
with the headlineशीर्षक "Sixछह Nationalराष्ट्रीय
Newspapersसमाचार पत्र Admitस्वीकार They Were Wrongगलत."
और मेरी हैडलाइन थी "छे राष्ट्रीय अखबार
जिहोने अपनी ग़लती स्वीकार की।"
04:25
And the anchorलंगर said to me,
और एंकर ने मुझसे पूछा कि,
04:29
"But don't you think
it's our jobकाम as journalistsपत्रकारों
"आपको नहीं लगता
प्रत्रकार होने के नाते हमारा काम है
04:31
to sensationalizesensationalize a storyकहानी?"
कि हम कहानियों को सनसनीखेज़ बनाएँ?"
04:33
And I said, "I was layingबिछाने
on a forestजंगल floorमंज़िल, goredगोर by a stagहरिण.
और मैंने कहा "कि एक हिरन ने मुझे
मार के ज़मीन पर गिराया था।
04:35
Is that not sensationalसनसनीखेज enoughपर्याप्त?"
क्या वह कम सनसनीखेज़ नहीं था?"
04:40
(Laughterहँसी)
(हँसी)
04:42
And I was now writingलिख रहे हैं the headlinesसुर्खियों.
और अब मैं ही हैडलाइन लिखने लगी थी।
04:44
My favoriteपसंदीदा one was,
मेरी सबसे पसंदीदा थी,
04:46
"The stagहरिण trampledरौंदा on my throatगला,
and the pressदबाएँ trampledरौंदा on my privacyगोपनीयता."
"हिरन ने मेरे गले को कुचला,
और पत्रकारों ने मेरी एकान्तता को कुचला।"
04:48
It was the mostअधिकांश readपढ़ना pieceटुकड़ा
of BBCबीबीसी Newsसमाचार onlineऑनलाइन that day.
और वह उस दिन बीबीसी न्यूज़ की
सबसे ज़्यादा पढ़ी गई खबर थी।
04:52
And I was kindमेहरबान of havingहोने funमज़ा.
और मुझे मज़ा आ रहा था।
04:55
And by the endसमाप्त of my weekसप्ताह of mediaमीडिया,
उस हफ़्ते के अंत में,
04:58
I startedशुरू कर दिया है to use my newfoundनयी
voiceआवाज़ and platformमंच
मैं अपनी नई आवाज़ और मंच के माध्यम से
05:00
to spreadफैलाना a messageसंदेश of love and kindnessदया.
प्यार और शान्ति का संदेश फैलाने लगी।
05:03
And when I had the minuteमिनट
of angerगुस्सा and hatredघृणा
और जब भी मुझे उन पत्रकारों के प्रति
05:05
towardsकी ओर those pressदबाएँ and journalistsपत्रकारों,
गुस्सा आने लगता,
05:08
I had to identifyकी पहचान my innerभीतरी
bigotryकट्टरता towardsकी ओर them.
मैं खुद को शांत करती और उनके प्रति अपने
अंदरूनी पक्षपात दूर रखती।
05:10
And I had to meetमिलना and speakबोले
with these people
और बुरे विचारों के बिना उन्हें मिलकर
05:15
withoutके बग़ैर judgmentनिर्णय.
शांतिपूर्वक बात करती।
05:17
I had to let myselfखुद understandसमझना them,
मेरा उनको समझना ज़रूरी था,
05:19
and in returnवापसी, they beganशुरू हुआ
to understandसमझना me.
और उनको मुझे समझना भी उतना ही ज़रूरी था।
05:21
Well, sixछह monthsमहीने laterबाद में, they askedपूछा me
to joinमें शामिल होने के the committeeसमिति
खैर, छे महीने बाद उन्होंने मुझे
उनकी प्रेस को विनियमित करने वाली समिति का
05:24
that regulatesनियंत्रित the pressदबाएँ.
हिस्सा बन्ने को कहा।
05:27
And a fewकुछ timesटाइम्स a yearसाल,
I sipघूंट teaचाय and dipडुबकी biscuitsबिस्कुट
और अब, साल में कई बार
05:30
with the likesको यह पसंद है of Dailyदैनिक Mailमेल editorसंपादक
Paulपॉल DacreDacre, who saysकहते हैं to me,
मैं बड़े बड़े अखबार के संपादकों से
चाय पर मिलती हूँ
05:34
"So, Kateकेट, how have
your last fewकुछ monthsमहीने been?"
जो मेरा हाल चाल पूछते हैं,
05:37
And I respectआदर करना them.
और मैं उनकी इज्ज़त करती हूँ।
05:40
And I'm now one of threeतीन
membersसदस्यों of the publicजनता
और अब मेरे पास भी अपने विचारों
05:42
who has a seatसीट at the tableतालिका --
को अभिव्यत करने का हक़ है --
05:44
not because I'm differentविभिन्न,
इसलिए नहीं क्योंकि मैं अलग हूँ,
05:46
but because my voiceआवाज़ countsमायने रखता है,
just like anybodyकोई elseअन्य.
लेकिन इसलिए क्योंकि हर किसी की तरह
मेरी आवाज़ भी एहमियत रखती है।
05:47
And the ironyव्यंग्य is,
और मज़े की बात ये है,
05:51
everyप्रत्येक now and again, I'm askedपूछा
to visitयात्रा those printingमुद्रण pressesप्रेस
कि काफ़ी बार मुझे
इस गिरते उद्योग के पत्रकारों के पास
05:53
of this decliningगिरावट industryउद्योग,
भेजा जाता है,
05:56
because some people think
क्योंकि कुछ लोगों को लगता है कि
05:57
that the technologyप्रौद्योगिकी I spokeबोला about here,
last time at TEDटेड, my interactiveइंटरैक्टिव printछाप,
जिस इंटरैक्टिव प्रिंट तकनीक के बारे में
मैंने पिछले बार TED में बात की थी,
05:59
mightपराक्रम actuallyवास्तव में help saveबचाना them.
वह उनको बचा सकता है।
06:04
So bewareखबरदार of your innerभीतरी bigotBigot,
तो अपने अंदरूनी पक्षपातों को दूर रखकर,
06:07
and make friendsदोस्तों from your enemiesदुश्मनों.
दुश्मन को भी दोस्त बनाना सीखो।
06:09
Thank you.
धन्यवाद।
06:12
(Applauseप्रशंसा)
(तालियाँ)
06:13
Translated by Gunjan Hariramani
Reviewed by Abhinav Garule

▲Back to top

About the speaker:

Kate Stone - Shepherd of electrons
At Novalia, Kate Stone and her team use ordinary printing presses to manufacture interactive electronics, which combine touch-sensitive ink technology and printed circuits into unique and cost-effective products.

Why you should listen

Born in Cheshire, England and the child of a continent-hopping engineer, Kate Stone was often left to her own devices among some of the world's most disparate cultures. Whether learning to cook rice from Gurkhas or spending time alongside a garageful of car repairmen in Borneo, Stone quickly learned that nontraditional problem-solving was often the very best kind.

At 20, Stone moved to Australia and eventually to the outback, where she was soon herding 22,000 sheep on a 120,000-acre farm. She then returned to England and began her studies in electronics at Salford University, before being recruited to do her PhD work in physics at Cambridge's Cavendish Laboratory, where her focus on moving electrons eventually led to the creation of her groundbreaking company, Novalia.

At Novalia, Stone says: "The work of my team and myself is the realization of my childhood fascinations. We put electronics into paper, and paper is all around us." Stone sees herself as a "creative scientist," blending art and science to create startling fusions of new and old technology. In addition to her work with Novalia, Stone is a member of the Editors Code of Practice committee.

More profile about the speaker
Kate Stone | Speaker | TED.com