मेलीस्सा फ्लेमिंग: ५०० शरणार्थियों वाला जहाज़ डुबता है| दो बचनेवालों की कहानी

TEDxThessaloniki

मेलीस्सा फ्लेमिंग: ५०० शरणार्थियों वाला जहाज़ डुबता है| दो बचनेवालों की कहानी

1,619,718 views

Readability: 3.7


बहुत अधिक भार से लदे ५०० शरणार्थियों वाले जहाज़ पर एक युवती, एक असम्भाव्य नायिका के रूप में उभरती है। UN की शरणार्थी संस्था की मलिस्सा फ्लेमिंग द्वारा वर्णित, यह केवल एक, ऐसी ज़बरदस्त कहानी है जो एक मानवीय चेहरा दे पाती है मनुष्यों की उन वास्तविक संख्याओं को जो बेहतर ज़िन्दगी की खोज में पलायन कर रहे हैं... जैसे- जैसे शरणार्थी जहाज़ आते जाते हैं...

एलिसन मैकग्रेगर: दवाई से अक्सर महिलाओं पर खतरनाक दुष्प्रभाव क्यों होती है

TEDxProvidence

एलिसन मैकग्रेगर: दवाई से अक्सर महिलाओं पर खतरनाक दुष्प्रभाव क्यों होती है

1,494,043 views

Readability: 4.4


पिछली सदी के अधिकांश समय, दवाओं को पुरुष रोगियों पर परीक्षण के बाद मंजूरी दी और बजार में जारी किया गया, है और केवल किया गया है बाजार के लिए जारी की है, जिसकी वजह से अनुचित खुराक और महिलाओं पर अस्वीकार्य दुष्प्रभाव हुआ हैं। पुरुषों और महिलाओं के बीच महत्वपूर्ण शारीरिक भेद केवल हाल ही में चिकित्सा अनुसंधान क्षेत्र में ध्यान में रखा गया है। आपातकालीन डॉक्टर एलिसन मैकग्रेगर ने इन भेदों का अध्ययन की और और इस आकर्षक बात में वह पुरुष मॉडल चिकित्सा पीछे की इतिहास कैसे चिकित्सा अनुसंधान में हमारे ढांचा बन गयी और कैसे पुरुषों और महिलाओं के बीच भेद समझकर दोनों लिंगों के लिए और अधिक प्रभावी उपचार कर सकते के बारे में चर्चा की।

माइकेल ग्रीन: हम कैसे बना सकते हें एक बेहतर दुनिया सन 2030 तक

TEDGlobal>London

माइकेल ग्रीन: हम कैसे बना सकते हें एक बेहतर दुनिया सन 2030 तक

1,461,360 views

Readability: 4.2


क्या आने वाले 15 सालों में हम गरीबी और भूख को समाप्त कर सकते हें, जलवायु परिवर्तन को रोक सकते हें, लेंगिक समानता ला सकते हें? दुनिया की सरकारें सोचती हे की हाँ हम कर सकते हें. सितम्बर 2015 की संयुक्त राष्ट्र की बैठक में, उन्होंने सन 2030 तक के लिए दुनिया के विकास के नए वैश्विक लक्ष्यों पर सहमति की हे. सामाजिक प्रगति विशेषज्ञ श्री माइकेल ग्रीन हमें बुला रहे हें कि हम विचार करें की एक बेहतर दुनिया के लक्ष्यों और उनके स्वप्न को केसे प्राप्त किया जा सकता हे. यह एक बहुत ही गहन चिंतन का अवसर हे, हमें जरुर से देखना चाहिए.

सिद्धार्थ मुखर्जी: जल्द ही हम एक गोली से नहीं, बल्कि एक पेशी के साथ बीमारियों की इलाज करेंगे

TED2015

सिद्धार्थ मुखर्जी: जल्द ही हम एक गोली से नहीं, बल्कि एक पेशी के साथ बीमारियों की इलाज करेंगे

1,431,470 views

Readability: 4.5


वर्तमान चिकित्सा उपचार छे शब्दों मे सारांश निकाल सकते है: बीमारी पाना, गोली लेना, कुछ वध| लेकिन चिकित्सक सिद्धार्थ मुखर्जी दवा के भविष्य के बारे में बताते है कि हमारी इलाज करने की तरीकों मे काफी बदलाव होगी।

सँन्ड्रिन थरेट: आप नए मस्तिष्क की कोशिकाओं को विकसित कर सकते हैं। देखिए इस प्रकार|

TED@BCG London

सँन्ड्रिन थरेट: आप नए मस्तिष्क की कोशिकाओं को विकसित कर सकते हैं। देखिए इस प्रकार|

6,188,612 views

Readability: 4.8


क्या हम वयस्क के रूप मेँ नये तंत्रिका कोशिकायेँ विकसित कर सकते हैँ? न्यूरोसाइंटिस्ट सान्ड्रिन थरेट का कहना है कि हम कर सकते हैं, और वह अपने दिमाग, न्यूरोजेनेसिस प्रदर्शन करने में कैसे मदद कर सकते हैं, इस विषय पर अनुसंधान और व्यावहारिक सलाह प्रदान करती है– मनःस्थिति में सुधार, बढ़ रही स्मृति गठन और रास्ते में उम्र बढ़ने के साथ जुड़े गिरावट को रोकने।

सैम्युएल कोहेन: अल्झायमर कोई  बुढापेकी  बिमारी नही --उसे ठीक किया जा सकता

TED@BCG London

सैम्युएल कोहेन: अल्झायमर कोई बुढापेकी बिमारी नही --उसे ठीक किया जा सकता

1,735,943 views

Readability: 4.5


अल्जाइमर अब प्रभावित करता है दुनिया भर में ४० लाख लोगों को।लेकिन २०५० तक, यह प्रभावित करेगा 150 करोड़ लोगों को जिसमे शायद आप हो सकते है सैम्युएल कोहेन कहते है इसके अनुसंधान के बारेमे i यह एक बिमारी है जो कि १०-२० साल मे ठीक होसाकेगी

ऐलिस बोव्स-लार्किन: जलवायु परिवर्तन हो रहा हे, अब यह की हम कैसे ढलते हें

TEDGlobalLondon

ऐलिस बोव्स-लार्किन: जलवायु परिवर्तन हो रहा हे, अब यह की हम कैसे ढलते हें

1,216,820 views

Readability: 5


आपने जो अनुभव किया हो उस सबसे गर्म दिन की कल्पना कीजिये. फिर उसमे 6, 10 या 12 डिग्री अधिक गर्म दिन का विचार कीजिये. जलवायु अनुसंधान विज्ञानी ऐलिस बोव्स-लार्किन के अनुसार यह हमारा भविष्य होगा यदि हमने अपने ग्रीन हाउस गैस उत्सर्जन को जल्दी और पर्याप्त मात्रा में कम नहीं किया तो. उनका सुझाव हेकि यही समय हे की हम चीजों को बदल कर करें, पुरे तंत्र में बदलाव लाये, आर्थिक वृद्धि का प्रयोग जलवायु स्थिरता के लिए करे.

मार्टिन पिस्टोरियस: मेरा मन कैसे जीवित वापस आया - और कोई नहीं जानता था

TEDxKC

मार्टिन पिस्टोरियस: मेरा मन कैसे जीवित वापस आया - और कोई नहीं जानता था

2,281,907 views

Readability: 3.4


“मैं भूखा हूँ”, “मैं दर्द में हूँ”, "धन्यवाद" या "मैं तुमसे प्यार करता हूँ," ये कहने के लिए असमर्थ होने की कल्पना कीजिए -- संवाद करने की क्षमता खोने, आपके शरीर के अंदर फंस जाना, पूरी तरह से लोगों से घिरे हुए भी अकेलेपन मेहसूस करना। 13 साल के लंबे अंतराल के लिए, ये मार्टिन पिस्टोरियस की वास्तविकता थी। बारह साल की उम्र में एक मस्तिष्क के संक्रमण से ग्रस्त होने के बाद पिस्टोरियस ने अपनी गतिविधियों को नियंत्रित और बात करने की अपनी क्षमता खो दिये थे, और अंततः वह मानसिक जागरूकता के लिए हर परीक्षण में विफल हुए। वह एक भूत जैसा बन गये थे। लेकिन फिर एक अजीब चीज की शुरूआत हुई - उनके मन एक साथ ही वापस बुनना शुरू कर दिया। इस चलते बात में, पिस्टोरियस अपने ही शरीर के अंदर बंद अपनी जीवन से खुद को कैसे मुक्त किये बताते है।

फ्रांसिस लार्सन: सार्वजनिक शिरच्छेद को लाखो लोग क्यों देखते है?

TEDGlobalLondon

फ्रांसिस लार्सन: सार्वजनिक शिरच्छेद को लाखो लोग क्यों देखते है?

1,140,704 views

Readability: 4.9


एक दहलादेनेवाला—पर अचंबित करनेवाला—इतिहास का सफर, फ्रांसिस लार्सन परिक्षण करती है मानवता का सार्वजनिक मृत्युदंड से रिश्ते का.…और विशिष्ट रूप से शिरच्छेद का। जैसा की वे हमें दिखती है की वह सब हमेशा भीड़ खिंच लेता है, पहले समय में सड़कोंपर और अब YouTube में। उन्हें भयावह और समान रूप से आकर्षक कौन बनाता है।

तैये सेलासी: मत पूछो मैं कहाँ से हूँ, मैं कहाँ की स्थानीय हूँ

TEDGlobal 2014

तैये सेलासी: मत पूछो मैं कहाँ से हूँ, मैं कहाँ की स्थानीय हूँ

2,699,549 views

Readability: 4.9


जब कोई पूछता हैं आप कहाँ से हैं.... तो क्या उसका जवाब देना कभी आपको मुश्किल लगता हैं? ऐसे लोग जो कई शहरों के रहवासी हैं, जिस जगह वे बड़े हुए वहाँ उन्हें घर जैसा लगता हैं, या जहाँ वे अब रहते हैं, या जहाँ उनके माता-पिता का गाँव हैं, या फिर कोई और एक-दो जगह, उनके मनोभावों को व्यक्त कर रही हैं लेखिका तैये सेलासी! वे पूछती हैं कि व्यक्ति एक राष्ट्र से कैसे आ सकता हैं? कोई मानव एक सिधान्त से कैसे आ सकता है, भला?

बैरी श्वार्ट्ज़: हम काम के बारे मे सोचने के तरीका टुटा हुआ है

TED2014

बैरी श्वार्ट्ज़: हम काम के बारे मे सोचने के तरीका टुटा हुआ है

2,865,348 views

Readability: 4.3


काम को संतोषजनक क्या बनाती है ? पेचेक के अलावा, अमूर्त मूल्योँ जो, बारी स्क्वार्ट्ज़ सूचना देते हुये, हमारे काम के बारे मे सोचने का वर्तमान तरीका पर बस ध्यान नहीं देते| कार्यकर्ताओँ को पहिया पर काग्स के रूप मे सोचना बन्द करने की अब वक्त आगया है|

ईव्ह मोहियू: कैसे कार्यस्थल के ज्यादा नियम आपके काम में  बाधा करेंगे

TED@BCG London

ईव्ह मोहियू: कैसे कार्यस्थल के ज्यादा नियम आपके काम में बाधा करेंगे

1,998,378 views

Readability: 4.5


मॉडर्न काम- प्रतीक्षा करने के टेबल्स से नंबर्स दबाने से नए प्रोडक्ट का सपना देखना--यह सभी दिनबदिन के समस्याओ को उलझाना, नए तरीको के साथ| किन्तु य्वेस मोरिअक्स यह संभाषण में बताते है-- जल्द ही, कामकाज का ज्यादा तनाव और सबहर पड़नाऔर इंटरनल मेट्रिक्स हमे अपना बेहतर देने से रोकते है| वे काम के बारे में नए विचार की तरह सोचने को बोलते है-- सहयोग से नाकि प्रतियोगिता से|

टोनी विस-कोरे: कैसे युवा खून मदद कर सकता उम्र बढ़ने रिवर्स| हाँ, सच में

TEDGlobalLondon

टोनी विस-कोरे: कैसे युवा खून मदद कर सकता उम्र बढ़ने रिवर्स| हाँ, सच में

1,605,679 views

Readability: 4.3


टोनी विस-कोरे ने मानव शरीर और मस्तिष्क पर उम्र बढ़ने के प्रभाव के बारे में अध्ययन किया। इस आंख खोलने वाली बात में, उन्होंने अपने स्टैनफोर्ड प्रयोगशाला और अन्य टीमों की नई शोध ये बतलाते हैं कि बुढ़ापे की कम महान पहलुओं में से कुछ के लिए समाधान, वास्तव में, हम सब के भीतर हो सकता हैं।

फोन टेपिंग का अल्प इतिहास आपके फोन पर हो रही निगराणी कैसे हटाये

TED2015

फोन टेपिंग का अल्प इतिहास आपके फोन पर हो रही निगराणी कैसे हटाये

1,508,990 views

Readability: 4.6


क्रिस्टोफर सोघोयन कहते है आपके फोन द्वारा किये गये काल्स मेसेज आपकी सरकार या अन्य देश की एजन्सीया हासिल कर सकती है इनमे क्रिमिनल भी हो सकते है i उनका संदेश है आप ऐसे साधन इस्तेमाल करिये जो एन्क्रिप्टेड है I कुछ कंपनियां सरकारों के इन संदेशो के देखे जाने के नये तरीको का विरोध कर रही हैं| देखीये किस कुछ कंपनियां आपके संदेशो को गुप्त रखने के लिए कार्य कर रही हैं|

बेनेदेत्ता बर्टी: ISIS जैसे संगठनों के प्रभुत्व के विचित्र तरीके

TED2015

बेनेदेत्ता बर्टी: ISIS जैसे संगठनों के प्रभुत्व के विचित्र तरीके

2,112,015 views

Readability: 4.9


ISIS, हेज्बुल्ला, हमास| ये तीन विविध गुट अपनी हिंसा के लिए जाने जाते हैं - मगर ये सिर्फ एक अंश है उसका जो वे करते हैं, राजनीतिक विश्लेषक बेनेदेत्ता बर्टी के अनुसार| वे अपनी समाज सेवा से जनमत जीतने की प्रयास भी करते हैं; विद्यालयों एवं अस्पतालों की स्थापना करके, सुरक्षा और सलामती प्रदान करके, और सरकारों द्वारा छोड़ी गई रिक्तियां पूर्ण करके| इन संगठनों के समस्त कार्यों की ज्ञप्ति हिंसा खत्म करने की नई रणनीति का प्रस्ताव करती है |

युवल नोआह हरारी: मानववृद्धि का कारण क्या हैं?

TEDGlobalLondon

युवल नोआह हरारी: मानववृद्धि का कारण क्या हैं?

3,310,995 views

Readability: 4.3


सत्तर हजार साल पहले, हमारे पूर्वज नगणनीय जानवर, जो आफ्रिका के कोने में, दूसरे जानवर के साथ रहनेवाले नगणनीय वानर थे| लेकिन आज, बहुत लोग मुझसे असम्मती नहीं होगे, ये कहने से कि मनुष्य ने प्रुथ्वी पर काबू पा लिया; हमारी विस्तार सभी महाद्वीपों में हुई, और हमारे कार्यों दूसरे जानवरों के भाग्य निर्धारित करते (और संभवता पृथ्वी का भी)| हम वहाँ से यहाँ कैसे पहुंच गये? इतिहासकार नो हरारी, मानवीय उन्नति के लिए, आश्चर्य जनक कारण का विवरण दिया|

जॉन ग्रीन: सब कुछ ऑनलाइन सिखने के लिए पढ़ाकू की गाइड

TEDxIndianapolis

जॉन ग्रीन: सब कुछ ऑनलाइन सिखने के लिए पढ़ाकू की गाइड

3,766,478 views

Readability: 4.3


हम में से कुछ लोग कक्षा में सबसे अच्छे सीखते, और हम में से कोई ... ठीक है, हम नहीं सीखते, लेकिन, हम अभी भी दुनिया के बारे मे नई बातें पता लगाना, हमारे मन को चुनौती देना,पसंद करते हैँ क्योंकि हमें सीखने से प्यार हैं। हमें सिर्फ ये करने के लिए सही जगह खोजने की और सही समुदाय के साथ सीखने की जरूरत है। इस आकर्षक बात में, लेखक जॉन ग्रीन इस ऑनलाइन वीडियो द्वारा सीखने की दुनिया के बारे में अपनी अनुभव बांट लिये।

साल्वाटोर इअकोनासि: क्या हुआ था जब मै मेरा ब्रैन कैंसर को खुला स्रोत किया|

TEDMED 2013

साल्वाटोर इअकोनासि: क्या हुआ था जब मै मेरा ब्रैन कैंसर को खुला स्रोत किया|

1,151,469 views

Readability: 4.1


जब कलाकार साल्वटोर लाकोनेसी को दिमाग की कैंसर से निदान किया तो वे निष्क्रिय रोगी, बनने से इनकार किया जिसका मतलब "जो इँतजार करता", इसलिए उन्होँने उनका दिमाग का स्केन्स "हैक" किये, और आनलैन पर पोस्ट किया और वैश्विक समुदाय को "इलाज" के लिए निमँत्रण किए| इसका अर्थ आधा मिलियन से भी ज्यादा लोगोँ से कभी वैद्य की सलाह, और इसका अर्थ कभी कळ, सँगीत, भावपूर्ण समर्थन है|

राजीव महेश्वरन: बास्केटबाल के सबसे अद्भुत चाल के पीछे का गणित

TED2015

राजीव महेश्वरन: बास्केटबाल के सबसे अद्भुत चाल के पीछे का गणित

2,377,078 views

Readability: 3.1


बास्केटबाल एक तेजी से बढ्ने वाला और रचनात्मक खेल है जिसमे सँपर्क, आहेम, स्पाटियो – टेँपोरल पाटर्न पहचानना है. राजीव महेश्वरन और उनके सहयोगी खेल के मुख्य चाल के पीछे गतियोँ को विश्लेषण करते है अँत:प्रेरणा और नया डाटा के साथ मिल कर प्रशिक्षकों और खिलाडियोँ की मदद करने के लिए. बोनस : वो लोग जो सीख रहे हैँ वो हमेँ लोगोँ की गती को समझ्ने मे मदद करेगा.

चिप किड्ड: पहले प्रभाव की कला  - रचना और जीवन में

TEDSalon NY2015

चिप किड्ड: पहले प्रभाव की कला - रचना और जीवन में

1,859,572 views

Readability: 3.9


किताब डिज़ाइनर चिप किड्ड भलीभांति जानते हैं कि कैसे हम अक्सर दिखावट से राय बना लेते हैं| इस मजेदार, तेज़ गति की चर्चा में उन दो तरीकों को समझाते हैं जो डिज़ाइनरस व्याख्या के लिए उपयोग करते हैं - स्पष्टता और रहस्य - एक साथ कब, कहाँ और कैसे काम करते हैं. वो सुन्दर और उपयोगी डिजाईनस की सराहना करते हैं, कम सफल डिजाईन से सीख लेते हुए अपने कुछ प्रतिष्ठित मुखपृष्ठों से जुडी कहानियों सुनाते हैं|

जोए अलेक्झांडर: ११ वर्षीय महाश्चर्य ओल्ड स्कुल जैझ का प्रदर्शन

TED2015

जोए अलेक्झांडर: ११ वर्षीय महाश्चर्य ओल्ड स्कुल जैझ का प्रदर्शन

2,339,222 views

Readability: 7.9


उसके पिताजी के संगीत रिकॉर्ड्स सुनके बढ़ा हुआ, जोए अलेक्झांडर आधुनिक शार्प पियानो पे जैझ बजता है आपको पता भी नहीं लगता की यह किशोर वयीन बजा रहा है| ११ वर्षीय प्रसन्न करनेवाले थेलोनिऔस माँक क्लासिक पर प्रदर्शन सुनिए|

बिल ग्रोस: नये उद्यम (स्टार्ट अप) की सफ़लता का सबसे बडा कारण

TED2015

बिल ग्रोस: नये उद्यम (स्टार्ट अप) की सफ़लता का सबसे बडा कारण

5,996,117 views

Readability: 4.3


बिल ग्रास ने कई स्टार्ट अप शुरु किये, और कई और को पोषण दिया == और उनकी जिज्ञासा ने उन्हें प्रेरित किया जानने के लिये कि क्यों कुछ सफ़ल और कुछ असफ़ल होते हैं। तो सैकडों कंपनियों के आँकडे इकट्ठा कर के उन्होंने पाँच पहलुओं पर गौर किया. और उन्हें एक पहलू मिला जो दूसरों से अलग बेहद ज़रूरी था - और उस पहलू ने स्वयं बिल को भी अचंभित कर दिया।

तल डँनीनो: हम बैक्टीरियाका उपयोग कैंसर का पता लगाने केलिए कर सकते है (या शायद इलाज केलिए)

TED2015

तल डँनीनो: हम बैक्टीरियाका उपयोग कैंसर का पता लगाने केलिए कर सकते है (या शायद इलाज केलिए)

1,284,953 views

Readability: 6.6


लीवर कैंसर का पता लगाने के लिए सबसे कठिन कैंसरों में से एक है , लेकिन सिंथेटिक जीवविज्ञानी तल डँनीनो एक बाएं क्षेत्र सोचा था : हम ट्यूमर को खोजने के लिए "प्रोग्राम किया हुआ" किया गया था कि एक प्रोबायोटिक , खाद्य जीवाणु बना सकता है तो क्या होगा? कोरम संवेदन की उनकी शक्ति है, या वे महत्वपूर्ण जन तक पहुँचने के लिए एक बार एक साथ कुछ कर रही है : उनकी अंतर्दृष्टि हम सिर्फ बैक्टीरिया के बारे में समझने की शुरुआत कर रहे हैं कुछ कारनामे। एक साथ काम कर रहे चालाक बैक्टीरिया किसी दिन कैंसर के इलाज को बदल सकता है और कैसे - डँनीनो, एक TED Fellow , कैसे कोरम संवेदन काम करता बताते हैं।

ग्रेग गेज: अपने मस्तिष्क से दुसरे का हात कैसे काबू करे

TED2015

ग्रेग गेज: अपने मस्तिष्क से दुसरे का हात कैसे काबू करे

6,154,697 views

Readability: 3.3


ग्रेग गेज मस्तिष्क विज्ञान के मिशन पर है|यह मजेदार डेमो में, मस्तिष्क वैज्ञानिक और TED फेलो साधा खुद से बनाने के किट से श्रोतो में से एक मेम्बर की चाह काबू कर लेते है| यह कोई छोटी ट्रिक नहीं: यह सच में काम करता है| देखिए और विश्वास करे|

बिल टी. जोन्स: नर्तक, गायक, सेल वादक… और  सर्जनात्मक जादुई क्षण

TED2015

बिल टी. जोन्स: नर्तक, गायक, सेल वादक… और सर्जनात्मक जादुई क्षण

1,348,498 views

Readability: 3.3


अमर नृत्य दिग्दर्शक बिल टी. जोन्स और TED सहकारी जोशुआ रोमन और सोमी को पक्का मालूम नही था क्या होगा जब वह TED२०१५ मंचपर जाएंगे। उनको सिर्फ श्रोताओ को दिखाने संधी चाहिये थी कि सर्जनात्मक सहयोग की गवाह देनी थी। परिणाम: सुधरा हुआ कार्य उसको वे बोलते "लाल चक्र और नीला परदा" इतना उत्तम की प्रचार करना ही चाहिए।

निझार इब्राहीम: हमने स्पिनोसौरस को  कैसे खोज निकाला

TEDYouth 2014

निझार इब्राहीम: हमने स्पिनोसौरस को कैसे खोज निकाला

994,320 views

Readability: 4.3


५० फुट लंबा मांसभक्षी जो ९.७ करोड़ साल पहले नदी में शिकार करता था, स्पिनोसौरस "एक पुराने समय का एक ड्रैगन है|" जीवाश्म अभ्यासक निझार इब्राहीम और उनके साथीदार नया जीवाश्म ढूँढ निकाला है, मोरोक्कन सहारा रेगिस्तान में छुपा हुआ| यह हमे पहले पानी में तैरनेवाले डायनोसौर के बारे में अध्ययन के लिए मददगार साबित हो रहा है-- और यह सबसे बड़ा मांसभक्षी डायनोसौर हो सकता है|

कैंलास सत्याग्रही: अमन कैसे रखे ?ग़ुस्सा प्रकट करके

TED2015

कैंलास सत्याग्रही: अमन कैसे रखे ?ग़ुस्सा प्रकट करके

1,298,679 views

Readability: 3.3


भारतमे एक जन्मसे उच्च वर्णीय नौजवान कैसे ८३०० बच्चोको गुलामीसे मुक्ती दिलाता है.नोबल प्राईज से सन्मानित कैलाश सत्याग्रही हरेकको एक अनोखा विस्मित करनेवाला संदेश दे रहे है .उन्हे विश्व मी बदलाव लाना है अन्याय के प्रती घुस्सा प्रकट करके .जीवन के दुष्कर स्थितीसे निकलकर अमन भारी जिंदगी कैसे जिये इसका पाठ पढाते है.

मोनिका लेविन्स्की: शम्रिंदगी की कीमत

TED2015

मोनिका लेविन्स्की: शम्रिंदगी की कीमत

13,475,141 views

Readability: 4.8


1998 में, मोनिका लेविन्स्की कहती हैं, "मैं पहली शिकार थी; अपनी सारी प्रतिष्ठा सारे विश्व में एक क्षण में गँवा देने की इस नयी बीमारी की।" जो बर्ताव उनके साथ ऑनलाइन हुआ, वो आज आम बात हो चुका है, और निरंतर हो रहा है। साहस के साथ वो एक नज़र डालती हैं "शमिंदगी के कल्चर"पर, जिसमें ऑन्लाइन शर्मिदा कर के पैसा कमाया जा रहा है - और वो एक अलग तरह से जीने की माँग रखती हैं

शिम्पेई ताकाहाशी: इस गेम से खेलकर प्राप्त करे णी सोच

TEDxTokyo

शिम्पेई ताकाहाशी: इस गेम से खेलकर प्राप्त करे णी सोच

1,757,474 views

Readability: 3.6


शिम्पेई ताकाहाशी ने हमेशा खिलौने डिजाइन करने का सपना देखा। लेकिन जब उन्होंने एक खिलौने का डेवलपर के रूप में काम करना शुरू किया, तो उन्होंने पाया कि डिजाइन के शुरुआती बिंदु के रूप में डेटा का उपयोग करने के दबाव ने उनकी रचनात्मकता को मार दिया है इस छोटे, मजेदार बात में, ताकाहाशी का वर्णन है कि उन्होंने अपने विचारों को फिर से कैसे उखाड़ दिया, और एक सरल खेल साझा करने के लिए कोई भी नया विचार पैदा करने के लिए खेल सके

जाॅन गोसियर: "ट्रिकल-डाउन टेकोनोमिक्स" के साथ समस्या

TEDGlobal 2014

जाॅन गोसियर: "ट्रिकल-डाउन टेकोनोमिक्स" के साथ समस्या

805,173 views

Readability: 5.1


प्रौद्योगिकी के लिए हुर्रे। ये हर किसी के लिए सब कुछ बेहतर बनाती है!! है ना? नहीं। जब एक नई तकनीक, जैसे ईबुक्स या स्वास्थ्य ट्रैकर, कुछ ही लोगों के लिए उपलब्ध होती है, इसके हम सभी के लिए अनपेक्षित परिणाम होते हैं। जाॅन गोसियर, टेड फैलो और तकनीक निवेशक, "ट्रिकल-डाउन टेकोनोमिक्स" की बात करते हैं और शक्तिशाली उदाहरण साझा करते हैं कि यदि नई तकनीक को समान रुप से नहीं बांटा गया तो ये कैसे काम बिगाड़ सकती है। जैसा कि वो कहते हैं, "असली नवाचार सभी को शामिल करने के तरीके ढ़ूंढ़ने में है।"