TED Talks with Hindi transcript

कायरा गोंत: रस्सी कूदने को अपनी ताल कैसे मिली

Small Thing Big Idea

कायरा गोंत: रस्सी कूदने को अपनी ताल कैसे मिली
337,451 views

" डाउन डाउन, बेबी, डाउन डाउन दा रोलर कोस्टर ...." डबल डच की कई रानियों का कर्ज़दान है हिप हॉप . एथ्नोमुसिओकोलोगिस्त कायरा गोंत हमें रस्सी कूदने के आकर्षक इतिहास के दौरे पर ले जाती है।

डैनियल एन्गबर: प्रगति पट्टी आपको कैसे विचारशील रखती है

Small Thing Big Idea

डैनियल एन्गबर: प्रगति पट्टी आपको कैसे विचारशील रखती है
476,619 views

प्रगति पट्टी इंतजार को और अधिक रोमांचक कर रही है ... और मृत्यु के हमारे डर को कम करती है। पत्रकार डैनियल एन्गबर पता लगाते हैं कि यह अस्तित्व में कैसे आया था।

कैरोलिन वीवर: पेंसिल उत्तम क्यों है

Small Thing Big Idea

कैरोलिन वीवर: पेंसिल उत्तम क्यों है
702,813 views

पेंसिल का आकार षट्कोण क्यों होता है, और उन्हें अपना विशेष पीला रंग कैसे मिला? पेंसिल की दुकान की मालिक कैरोलिन वीवर हमें पेंसिल का दिलचस्प इतिहास बता रही हैं।

माइकल बेइरूट: लंदन ट्यूब मानचित्र की प्रतिभा

Small Thing Big Idea

माइकल बेइरूट: लंदन ट्यूब मानचित्र की प्रतिभा
791,975 views

डिजाइन किंवदंती माइकल बेइरूट दुनिया के सबसे मशहूर मानचित्रों में से एक, लंदन ट्यूब मानचित्र की आकस्मिक सफलता की कहानी बताती है।

बॉब स्टेइन: दुनिया से जाने की रीत

TED Residency

बॉब स्टेइन: दुनिया से जाने की रीत
1,143,737 views

हमारी ज़िंदगी के शुरुआती पड़ावों के लिये हम रीतियों का इस्तेमाल करते हैं, जैसे जन्मदिन और दीक्षांत समारोह मनाना- लेकिन हमारी ज़िंदगी के बाद के सालों का क्या? पिछली और आगे आने वाली ज़िंदगी से जुड़ी इस चिंतनशील चर्चा में बॉब स्टीन ने बुढ़ापे में अपनी चीजों को देने (और उनके पीछे की कहानियों को साझा करने), अपने अब तक के जीवन पर प्रतिबिंबित करने और आगे जो कुछ भी हो उसके लिये अपने दरवाज़े खुले रखने की एक नई परंपरा का सुझाव दिया है।

सोका मोसेस: इबोला के उत्तरजीवो के लिए,  संकट अभी टला नहीं है|

TEDMED 2017

सोका मोसेस: इबोला के उत्तरजीवो के लिए, संकट अभी टला नहीं है|
898,099 views

२०१४ मे, एक नए प्रशिक्षित चिकित्सक के तोर पर, सोका मोसेस ने विश्व के सबसे कठिन कामो में से एक काम को चुना : लाइबेरिया के घातक ईबोला प्रकोप से जुंझ रहे अत्यधिक संक्रामक रोगियों का इलाज करना| इसी तीर्व में, भावुक व्याख्यान दिए जिनमे उन्होंने बताया की उन्होंने इस संकट स्थिति में क्या महसूस किया और इसकी चुनोतिया और कलंको को उजागर किया जिससे हजारो लोग पीड़ित है |

अमिशी झा: अपने भटकते दिमाग को काबू में कैसे करें

TEDxCoconutGrove

अमिशी झा: अपने भटकते दिमाग को काबू में कैसे करें
2,130,926 views

अमिशी झा अध्ययन करती हैं कि हम कैसे ध्यान देते हैं: जिस प्रक्रिया से हमारा दिमाग तय करता है कि हमें प्राप्त जानकारी के निरंतर प्रवाह में से क्या महत्वपूर्ण है। झा कहती हैं - दोनों, बाहरी विकृतियांँ (जैसे तनाव) और आंतरिक (जैसे दिमाग का भटकना) हमारे ध्यान की शक्ति को कम कर देती हैं - लेकिन कुछ सरल तकनीकें इसे बढ़ा सकती हैं। झा कहती हैं, "अपने ध्यान पर ध्यान दें।"

अडोंग जूडिथ: कैसे मैं कला से गलतफहमी मिटाती हूँ

TEDGlobal 2017

अडोंग जूडिथ: कैसे मैं कला से गलतफहमी मिटाती हूँ
934,386 views

अडोंग जूडिथ एक निर्देशक और नाटककार है जो उत्तेजक कला के द्वारा LGBTQ अधिकार से लेकर युद्ध अपराधों तक के महत्वपूर्ण मुद्दे उठाती है|इस संक्षिप्त किंतु प्रभावशाली संभाषण में उन्होंने अपने नाटक "मूक आवाज़ें" का विवरण दिया, जिसने जोसफ कोनी के विद्रोही समूह के विरुद्ध उत्तर युगांडा युद्ध के पीड़ितों को लेकर राजनीतिक, धार्मिक एवं सांस्कृतिक नेताओं के साथ परिवर्तनकारी वार्तालाप संभव किया|जूडिथ कहती है की "केवल एक दूसरे के विचार सुनने से सभी समस्याओं का जादुई हल नहीं होगा|" "लेकिन यह ज़रिया होगा एक साथ मिलकर मानवता की अनेक समस्याओं को हल करने का|"

मार्क बामुथि जोसेफ़: फ़ुटबॉल हमें आज़ादी के बारे में क्या सिखा सकता है

TEDGlobal 2017

मार्क बामुथि जोसेफ़: फ़ुटबॉल हमें आज़ादी के बारे में क्या सिखा सकता है
928,754 views

"फ़ुटबॉल इस दुनिया में वह इकलौती चीज़ है जो हम सब एक साथ करने के लिए तैयार हो सकते हैं," ऐसा कहते है थिएटर के निर्माता और टेड के सदस्य मार्क बामुथि जोसेफ | अपने प्रदर्शन एवं "मूविंग एंड पासिंग" नामक एक संलग्न होने के पहल के द्वारा जोसेफ़ संगीत, नृत्य व फ़ुटबॉल को मिश्रित करते है और कला व खेल के बीच सुलभ, सुखद संबंध दर्शाते है | सीखिए कि कैसे वह इस खूबसूरत खेल का उपयोग करके समुदाय को प्रोत्साहित करते है और आप्रवासियों से संबंधित मुद्दों को उजागर करते है |

सिमोन बिआन्को  एवं टॉम जिम्मेरमान: पानी की एक बूंद में जीवों का संसार

TED@IBM

सिमोन बिआन्को एवं टॉम जिम्मेरमान: पानी की एक बूंद में जीवों का संसार
1,050,957 views

"अपनी सांस रोकिये", टॉम जिमेरमेंन कहते हैं। "प्लावक रहित संसार है।" ये सूछमजीव हमारी धरती की दो तिहाई आक्सीजन उत्पन्न करते हैं - उनके बिना हम जानते हैं जीवन संभव नहीं। इस व्याख्यान और तकनीकी प्रदर्शन में , जिम्मेरमैन और कोशिका इंजीनियर सिमोन बिआन्को तिआयामी सूछ्मदर्शी की सहायता से पानी की एक बूंद में प्लावकों की गोताखोरी दिखायेंगे। इन आश्चर्जनक जीवों के बारे में जानकर प्रेरणा लेते हैं कि पर्यावरणीय परिवर्तनों से कैसे रक्षा करें।

नाओमी क्लीन: खौफनाक घटनाएं कैसे सकारात्मक बदलाव को जन्म देती हैं

TEDGlobal>NYC

नाओमी क्लीन: खौफनाक घटनाएं कैसे सकारात्मक बदलाव को जन्म देती हैं
984,139 views

दुनिया में कई खौफनाक घटनाएं घटित हो रही हैं - भयानक तूफ़ान, आतकवादी हमले, हजारों प्रवासियों का पानी में डूब जाना, खुलेआम उच्चता आंदोलनों का बढ़ना इत्यादि. क्या बारंबार आनेवाली मुसीबतों को हम सही ढंग से उत्तर दे रहे हैं? लेखक एवं आन्दोलानकर्ता नाओमी क्लीन ये अध्ययन करती हैं की कैसे सरकारें इन बड़े झटकों का इस्तेमाल समाज को पीछे धकेलने के लिए करती हैं. वे कुछ सुझाव साझा कर रही हैं - "द लीप" में से - जो एक घोषणापत्र है, जिसको उन्होंने ज्येष्ठ नागरिकों, पर्यावरणविदों, यूनियन नेताओं और अनेक पृष्ठभूमियों से आने वाले लोगों के साथ मिलकर बनाया है - जो ऐसे विश्व की कल्पना करता है, जिसमे अर्थव्यवस्था साफ़ और समाज न्यायपूर्ण है. "इन खौफनाक घटनाओं से पैदा होने वाला डर हमको और समाज को परिवर्तित कर सकता है" क्लीन कहती हैं "लेकिन पहले हम सबको मिलकर ऐसे विश्व की कल्पना संजोनी पड़ेगी, जैसा हम इस दुनिया को देखना चाहते हैं."

कौस्तव डे: हमारा अस्तित्व और विचार व्यक्त करने में... फैशन हमारी मदद कैसे करता है

TED@Tommy

कौस्तव डे: हमारा अस्तित्व और विचार व्यक्त करने में... फैशन हमारी मदद कैसे करता है
1,058,242 views

न्यू यॉर्क शहर में नीली जीन पहनी महिला की ओर कोई मुड़कर नहीं देखता... परंतु जब नोबल पुरस्कार विजेता मलाला जीन पहनती हैं, तो राजनीतिक बात हो जाती है। संसार भर में, व्यक्तित्व एक अपराध हो सकता है और कपड़े विरोध का एक रूप ले सकते हैं। हमारे पहनावे के बारे में बोलते हुए, कौस्तव डे खोज करते हैं कैसे फैशन बिना कहे ही हमारी असहमति प्रकट कर सकता है और हमें प्रोत्साहित करते हैं कि हम अपनी असलियत को अपनाएँ।

डिक्सन चिबंदा: मैं दादीमांओ को क्यों सिखाता हूँ  डिप्रेशन ठीक करना

TEDWomen 2017

डिक्सन चिबंदा: मैं दादीमांओ को क्यों सिखाता हूँ डिप्रेशन ठीक करना
1,199,404 views

डिक्सन चिबंदा ज़िमबाबवे के 12 मनोचिकित्सकों में से एक हैं --16 लाख से भी अधिक जनसंख्या के लिए। जब उन्हें यह एहसास हुआ कि उनका देश इतने बडे पैमाने कि मानसिक स्वास्थ्य की परेशानी पारंपरिक तरीके से नहीं हल कर सकता, चिबंदा ने एक सुंदर उपाय निकालने में मदद की, जिसकी ताकत थी असीमित संसाधन: दादीमाऐं। इस अद्भुत, प्रेरणादायक बातचीत में जानिये कैसे दोस्ती का बेंच, जो दादीमांओ को सिखाता है सबूत पर आधारित बातचीत की थेरेपी और कैसे देखरेख और आशा लाता है, जिनको ज़रूरत है उनके लिए।

मार्गारेट मिशेल: कैसे हम  कृत्रिम बुद्धिमत्ता  की रचना कर सकते हैं, बिना नुकसान के, मनुष्यों की मदद के लिए.

TED@BCG Milan

मार्गारेट मिशेल: कैसे हम कृत्रिम बुद्धिमत्ता की रचना कर सकते हैं, बिना नुकसान के, मनुष्यों की मदद के लिए.
1,106,548 views

गूगल में वैज्ञानिक के तौर पर मार्गरेट मिशेल ऐसे कंप्यूटर विकसित करती हैं, जो देख और समझ कर उसके बारे में बातें कर सकते हैं. वह एक सचेत करनेवाली कहानी कहती हैं, जिसमे वे उन कमियों, कमजोरियों और पूर्वाग्रहों की बात कर रही हैं, जो वैज्ञानिक अवचेतन रूप से AI में सम्मिलित कर देते हैं, और सोचने के लिए कहती हैं कि आज रची जानेवाली तकनीक के कल क्या मायने होंगे. "आज जो भी हम देख रहे हैं वह AI तकनीक के विकास में फोटो के जैसा है." मिशेल कहती हैं "अगर हम AI तकनीक का विकास मानवता कि भलाई के लिए करना चाहते हैं, तो हमें इसका लक्ष्य और रणनीति अभी से तय करनी होंगी, ताकि हमारी राह सही हो"

टीटो डेलेर: मेरा अंतिम इनाम

TED@Tommy

टीटो डेलेर: मेरा अंतिम इनाम
202,847 views

ब्लूज़ समूह के संगीतकार टीटो डेलेर ने यहाँ उनकी न्यू यॉर्क की परवरिश के साथ मिसिसिपी डेल्टा ब्लूज़ की शेली को बहुत ख़ूबसूरत ढंग से जोड़ा है। उन्होंने मंच पर अपने संगीत और झंकार से अपने गाने 'मेरा अंतिम इनाम' का गायन किया।

डेनियल सस्किंड: 3 मिथक नौकरियों के भविष्य के बारे में (और क्यूँ वे सच नहीं हैं)

TED@Merck KGaA, Darmstadt, Germany

डेनियल सस्किंड: 3 मिथक नौकरियों के भविष्य के बारे में (और क्यूँ वे सच नहीं हैं)
1,405,256 views

"क्या मशीनें मनुष्यों का स्थान ले लेंगी?" यह सवाल हर नौकरीपेशा व्यक्ति के मन में उठ रहा है. डेनियल सस्किंड इस प्रश्न से जूझते हुए, स्वचालित भविष्य की 3 गलतफहमियों से हमें अवगत कराते हैं और एक अलग सवाल पूछने को कहते हैं: जब विश्व में बहुत कम या शायद कुछ भी काम नहीं रह जाएगा, तब हम धन का विभाजन कैसे करेंगे?

वलेरी कौर: रोष के समय में क्रांतिकारी प्रेम के  पाठ

TEDWomen 2017

वलेरी कौर: रोष के समय में क्रांतिकारी प्रेम के पाठ
1,357,802 views

बढ़ते हुए राष्ट्रवाद, ध्रुवीकरण और घृणा का मारक क्या है? इस प्रेरक, कावयात्मक भाषण में, वैलरी कौर हमें प्रेम को एक क्रांतिकारी क्रिया के रूप में पुनः प्राप्त करने के लिए कहती हैं। प्रसव कक्ष से रक्तपात के दुखद स्थलों तक की अपनी यात्रा में, कौर हमें दिखाती हैं कि प्रेम करने का चुनाव न्याय की ताकत कैसे बन सकता है।

स्टुअर्ट डंकन: ऑटिज्म के बच्चों को मदद करने के लिए मैं कैसे माइनक्राफ्ट का उपयोग करता हूँ

TEDxYorkU

स्टुअर्ट डंकन: ऑटिज्म के बच्चों को मदद करने के लिए मैं कैसे माइनक्राफ्ट का उपयोग करता हूँ
1,093,420 views

इंटरनेट एक बदसूरत जगह हो सकती है, लेकिन आप स्टुअर्ट डंकन के माइनक्राफ्ट सर्वर, ऑटकैफ्ट पर धोंसिये या ट्रॉल नहीं पाएंगे। आटिज्म और उनके परिवारों के बच्चों के लिए बनाया गया, ओटोक्रेफ्त उन बच्चों के लिए खेलने और आत्म-अभिव्यक्ति के लिए एक सुरक्षित ऑनलाइन वातावरण बनाता है जो कभी-कभी अपने साथियों की तुलना में थोड़ी अलग व्यवहार करते हैं (और जो अन्यत्र अकेले किये जा सकते हैं) । इस हार्दिक भाषण के साथ इंटरनेट पर सबसे अच्छे स्थानों में से एक के बारे में और जानें।

वेंडी वुड्स: अच्छा काम करने के व्यापारिक फायदे

TED@BCG Milan

वेंडी वुड्स: अच्छा काम करने के व्यापारिक फायदे
1,255,822 views

"इस काल की चुनौतीपूर्ण समस्याओं पर ठोस तरक्की करने के लिए व्यापार जगत को ही समाधान खोज कर संचालित करने होंगे" ये कहती हैं सामाजिक-प्रभाव-रण नितिज्ञ वेंडी वुड्स. कई आंकड़ों सहित वे एक नवीन पहलू प्रदर्शित करती हैं कि कैसे उद्योग जगत का प्रत्येक अंग समाज को प्रभावित करता है, और कैसे उनको चीजों को बेहतर बनाने के लिए अनुकूलित किया जा सकता है. जानिये कि कैसे अधिकारीगण, कॉर्पोरेट की सामाजिक जिम्मेदारी से ऊपर उठकर "पूर्ण सामाजिक प्रभाव" की ओर बढ़ सकते हैं - जिससे कम्पनी के मुनाफे के साथ साथ समाज को भी फायदा पहुँच सकता है.

अज़ीम ख़मीसा, प्लेस फीलिक्स: त्रासदी के बाद क्या होता है? क्षमादान

TEDWomen 2017

अज़ीम ख़मीसा, प्लेस फीलिक्स: त्रासदी के बाद क्या होता है? क्षमादान
1,094,957 views

१९९५ की एक भयानक रात को, प्लेस फीलिक्स के १४-वर्षीय दोहते ने नशे, शराब और अपनेपन की एक झूठी भावना में धुत होकर अज़ीम ख़मीसा के बेटे को गिरोह के दीक्षा संस्कार में मार डाला। इस भयानक घटना ने अज़ीम ख़मीसा और प्लेस फीलिक्स को ईश्वर के ध्यान में लीन कर दिया, क्षमा करो और क्षमा पाओ... और साहस और सुलह के इस कार्य में, दोनों मिले और एक कभी ना टूटने वाले बंधन में बंध गए। एक साथ मिलकर, उन्होंने अपनी कहानी को एक बेहतर और अधिक दयालु समाज के लिए एक रूपरेखा के रूप में उपयोग किया है, जहाँ त्रासदी के शिकार लोग अपना गम भूल सकते हैं और आगे बढ़ सकते हैं। उनकी अकाल्पनिक कहानी आपको द्रवित कर देगी। ख़मीसा कहते हैं, "शांति संभव है। मैं यह कैसे जानता हूँ? क्योंकि मैं शांति महसूस करता हूँ।"

मेरीली ओप्पेज्जो: अधिक सृजनात्मक बनना चाहते हैं? टहलने जाईये।

TEDxStanford

मेरीली ओप्पेज्जो: अधिक सृजनात्मक बनना चाहते हैं? टहलने जाईये।
3,302,872 views

नए आईडिया कि तलाश में अक्सर हम सब एक पड़ाव पर आकर फंस जाते हैं. स्वभाव एवं अध्ययनविद मरिली ओप्पेज्जो की शोध के अनुसार, महज़ पैदल सैर पर जाने से आप रचनात्मक विचारों से परिपूर्ण हो सकते हैं. इस तेज चर्चा में वह बताती हैं कि कैसे पैदल चलने से आप अपनी अगली मंथन मीटिंग से ज्यादा से ज्यादा फायदा पा सकते हैं.

विवेक मारू: लोगों के हाथ में कानून की ताकत कैसे दें

TEDGlobal 2017

विवेक मारू: लोगों के हाथ में कानून की ताकत कैसे दें
1,133,161 views

क्या कर सकते हैं आप जब समय पर न्याय ना मिले? या न्याय मिले ही नहीं? विवेक मारू लोगों और कानून के बीच के संबंध को बदलने में लगे हैं, कानून को एक कल्पना या धमकी से कुछ ऐसे में बदलने में जिसे सब समझ सकें, प्रयोग कर सकें और बदल सकें। केवल वकीलों पर निर्भर ना रहते हुए, मारू ने कम्यूनिटी पैरालीगल्स या बेयरफुट वकीलों का एक वैश्विक नेटवर्क शुरू किया, जो अपनी कम्युनिटी में ही काम करते हैं और कानून को आसान शब्दों में व्यक्त करके लोगों को समाधान ढूँढने में मदद करते हैं। जानिए कैसे कानून इस्तेमाल करने का यह परिवर्तनात्मक दृष्टिकोण समाज द्वारा बहिष्कृत लोगों को अपने अधिकारों को पाने में मदद कर रहा है। मारू कहते हैं, "थोड़ा सा लीगल सशक्तिकरण सफलता की राह पर ले जा सकता है।"

फ्रेद्रोस ओकुमु: क्यूँ मैं दुनिया के सबसे खतरनाक जानवर (मच्छर) का अध्ययन करता हूँ

TEDGlobal 2017

फ्रेद्रोस ओकुमु: क्यूँ मैं दुनिया के सबसे खतरनाक जानवर (मच्छर) का अध्ययन करता हूँ
1,090,523 views

हम मच्छरों के बारे में क्या जानते हैं? फ्रेद्रोस ओकुमु इन बीमारी फैलाने वाले कीटों को पकड़ते हैं और उनका अध्ययन करते हैं - इस आशा से कि उनकी जनसँख्या में भरी गिरावट लाई जा सके. ओकुमु से जुड़िये और जानिए की इस शोध में तंज़ानिया के इफकारा हेल्थ इंस्टिट्यूट की उनकी टीम ने किन अपरंपरागत तरीकों को विकसित किया है, इस धरती के खतरनाक जानवर को निशाना बनाया जा सके.

पीटर ओउको: फाँसी की सज़ा से कानून स्नातक तक

TEDGlobal 2017

पीटर ओउको: फाँसी की सज़ा से कानून स्नातक तक
985,483 views

पीटर ओउको ने केन्या के कमिति जेल में 18 वर्ष काटे, कभी-कभी दिन के साढ़े 23 घण्टों के लिए, 13 और आदमियों के साथ एक कमरे में कैद रह कर। एक भावुक संभाषण में वह अपने रिहा होने की कहानी बताते हैं -- और अफ़्रीकन प्रिज़न्स प्रोजेक्ट के साथ उनके मौजूदा अभियान की: जो जेल की सलाखों के पीछे बने पहले कानून विद्यालय को स्थापित कर, जेल के कैदियों को सशक्त करने और सकारात्मक परिवर्तन लाने की ओर काम कर रहा है।

सुजय जॉन्सन: हम बच्चों को सेक्स बारे क्या नहीं सिखाते हैं?

TED Residency

सुजय जॉन्सन: हम बच्चों को सेक्स बारे क्या नहीं सिखाते हैं?
2,503,398 views

विवरण: माता-पिता के रूप में, हमारे बच्चों को यौन संबन्धों बारे सिखाना हमारा काम है। लेकिन "बात" से परे, जो जीव विज्ञान और प्रजनन को शामिल करता है, हमारे शरीर में होने के मानव अनुभव बारे हम इतना अधिक कह सकते हैं। "टॉक 2.0" का परिचय, सु जय जॉन्सन हमें दिखाती है कि कैसे हम अपने बच्चों को उनकी उत्तेजनाओं में ट्यून करने और उनकी इच्छाओं और भावनाओं को संवाद करने के लिए भाषा प्रदान करने के लिए सिखा सकते हैं - बिना छिपाए या सुन्न हुए।

क्रिस्टोफर अटगेका: मेरी दत्तक ग्रहण की कहानी

TEDGlobal 2017

क्रिस्टोफर अटगेका: मेरी दत्तक ग्रहण की कहानी
983,931 views

टेड सहभागी क्रिस्टोफर अटगेका कहते हैं, "प्रतिभा सार्वभौमिक होता है, बल्कि मौके नहीं" इस आकर्षक, आशावादी भाषण में, ाटगेका अपने बचपन में अनाथ होने की कहानी सुनते हैं, और यह बताते हैं की अपनाये जाने पर उनको कैसे एक नया संस्कृतिक अनुभव , शिक्षा और अपनी पूर्ण क्षमता को हासिल करने का मौका मिला. अटगेका कहते हैं,"शायद हम इस दुनिया की कट्टरता और नस्लवाद को कभी सुलझा न पाए लकिन हम ज़रूर भच्चे पाल सकते हैं जो एक आशावादी, समावेशी और जुड़ा हुआ संसार बना सकते हैं: सहानुभूति से भरा,प्यारा और दयालु."

डेबरा विल्स, हैंक विल्स थौमस: प्यार और कला से एक साथ आये एक माँ और बेटा

TEDWomen 2017

डेबरा विल्स, हैंक विल्स थौमस: प्यार और कला से एक साथ आये एक माँ और बेटा
964,930 views

एक कला विद्यालय के प्रोफेसर ने एक बार डेबरा विल्स से एक बार कहा कि, स्त्री होने के कारण,उन्होंने एक होनहार पुरूष की जगह ले ली है--पर सचित्र फोटोग्राफर कहतीं हैं उन्होंने एक अच्छे आदमी के लिए जगह बनाई, अपने बेटे हैंक विल्स थोमस। इस मार्मिक संवाद में कलाकार माँ और बेटा बताते हैं कैसे वे एक दूसरे से प्रेरणा लेते हैं, कैसे उनकी कला मुख्य धारा में काले लोगों के जीवन और काले लोगों की खुशियाँ की चुनौति देती है और कैसे सब अंत में प्यार पर निर्भर करता है।

नादिन हाचच-हरम: संवर्धित वास्तविकता शल्य-चिकित्सा के भविष्य को कैसे बदल सकती है

TEDWomen 2017

नादिन हाचच-हरम: संवर्धित वास्तविकता शल्य-चिकित्सा के भविष्य को कैसे बदल सकती है
1,233,102 views

विवरण: यदि आपकी शल्य-चिकित्सा हो रही है, तो आप अपने मामले पर सहयोग करने के लिए शल्य-चिकित्सा की सर्वोत्तम टोली चाहते हो, वह कहीं भी हो। शल्य-चिकित्सक और उद्यमी नदिन हाचच-हरम एक नई प्रणाली विकसित कर रहीं हैं जो शल्य-चिकित्सकों को एक साथ मिलकर और नई तकनीकों पर एक दूसरे को प्रशिक्षित करने में मदद करती है - दूरस्थ स्थानों से कम लागत वाली संवर्धित वास्तविकत उपकरणों का उपयोग करके। प्रणाली को कार्रवाई में देखें क्योंकि वह मिनेसोटा में एक शल्य-चिकित्सक के साथ मिल कर एक घुटने की शल्य-चिकित्सा करते हैं, उसके लैपटॉप पर न्यू ऑरलियन्स में टेड स्टेज से रहते हैं। प्रणाली को कार्यान्वित होते उसे अपने लैपटॉप से टेड मंच, नए ओरलिअंस शहर से मिन्नेसोटा में एक और शल्य-चिकित्सक के साथ मिल कर घुटने की शल्य-चिकित्सा करते हुए सजीव रूप से देखें। हचच-हरम कहती हैं: "सरल, हर रोज़ उपयोग में लाये जाने वाले स्वीकृत उपकरणों के माध्यम से, हम वास्तव चमत्कारी काम कर सकते हैं।" (इस वक्तव्य में शल्य-चिकित्सा की ग्राफिक छवियाँ हैं।)